Ads

2s In Train क्या होता हैं? What Is 2s In Train - 2s In Train Means जानिए

What Is 2s In Train - 2s In Train Means - 2s In Train Kya Hota Hai जानिए 


मित्रो आज के इस लेख में आपको 2s In Train क्या होता है? इस बारे में जानकारी देंगे. जैसे ही आपके सवाल जिसमे What Is 2s In Train और 2s In Train Means जिसके जवाब आप गूगल से पूछ-पूछ कर थक गए है. लेकिन आपको कोई भी सटीक जवाब आज तक नहीं मिला जिससे की आपकी खोजी प्रवृत्ति को शांति मिलेगी और कौतुहल समाप्त होगा. 


तो आइये आज आपको What Is 2s In Train In Hindi में आपके सवाल के जवाब को हमारे ब्लॉग "इंडियन गप्पा" के अंदाज में जानियेगा. यदि आप हमारे नियमित पाठक होंगे तो आपको पता होगा की, हमारे ब्लॉग के विशेषज्ञों के द्वारा किसी भी जवाब की तह तक जाकर ही लेख लिखा जाता है. 

2s-in-train-what-is-2s-in-train-2s-in-train-means
What Is 2s In Train (2s In Train) 2s In Train Means


इसी कड़ी में आपके सवाल 2s In Train Means In Hindi इस विषय में सटीक जानकारी देंगे. वैसे Train Mein 2s Kya Hota Hai इस बारे में Google पर कुछ क्वेरी प्रचलित है. जो इस प्रकार है.

1. 2s In Train Booking ?

2. What Is Class 2s In Train?

3. Class 2s In Train Means?

4. 2s Kya Hota Hai Train Me?

5. 2s Kya Hota Hai ?

6. 2s Matlab Kya Hota Hai?

7. 2s Seat In Train Images?

8. 2s In Train Means Images?


इस लेख को आगे आप निचे बताये Table of Content के आधार पर जानकारी प्राप्त करेंगे….! 


Table of Content About 2s In Train

  • What Is 2s In Train In Hindi - 2s In Train Means In Hindi – प्रस्तावना

  • What Is Meaning Of 2s In Train - Train Mein 2s Kya Hota Hai – संक्षिप्त जवाब 

  • What Is 2s In Train - Meaning Of 2s In Train - 2s In Train Means विस्तृत जवाब 

  • Second Sitting और General में क्या अंतर है (Difference Between Second Sitting And General Coach)

  • What Is Class 2s In Train के बारे में Q & A Platform पर सवाल जवाब

  • Quora के अनुसार 2s मतलब क्या होता है (2s Matlab Kya Hota Hai)

  • Vokal के अनुसार 2s क्या होता है ट्रेन में (2s Kya Hota Hai Train Me)

  • YouTube के मुताबिक 2s In Train का मतलब हिंदी में (What Is 2s In Train)

  • 2s In Train Images - 2s Seat In Train Images - 2s In Train Means Images


आइये जान लेते है.......!👀


What Is 2s In Train In Hindi - 2s In Train Means In Hindi – प्रस्तावना


वैसे What Is 2s In Train  ये सवाल काफी सस्पेंस से भरा हुआ प्रतीत होता है. हम लोगो में से ऐसा ही कोई व्यक्ति हो जो की ट्रेन में सफ़र नहीं करता होगा. लेकिन फिर भी हमें जो जानकारी ट्रेन के बारे में है वो केवल हमारे सफ़र करने से लेकर सफ़र ख़त्म होने तक ही होती है. उसके बाद हमें अन्य मामलो की उतनी ज्यादा जानकारी नहीं होती है. 


उसी तर्ज पर 2s In Train Means ये सवाल भी हमारे सामने आता है. आज इसी बात से पर्दा उठाने वाले है की, आखिर 2s In Train का मतलब क्या होता है? जानने के लिए निचे चलिए. 👀 👇👇


What Is Meaning Of 2s In Train - Train Mein 2s Kya Hota Hai – संक्षिप्त जवाब 


भारतीय रेलवे हमारे देश की जीवन रेखा कही जा सकती है. इसमें लाखो के तादात में ट्रेने चलती है. ट्रेनों में यात्रियों के लिए की गयी बैठक व्यवस्था में 2s का मतलब Second Seating (द्वितीय श्रेणी) की बैठक व्यवस्था से है. जैसे की 1AC, 2AC, 3AC, Sleeper Class, CC Class इस प्रकार की बैठक व्यवस्था में से ये सबसे निचले पायदान पर है. इस 2s बैठक व्यवस्था में यात्रियों के लिए सोने की व्यवस्था नहीं होती केवल बैठक की व्यवस्था होती है और इसका मुख्य करना है इसमें यात्रा का लगभग दिन में ही होना है. 


2s एक रेलवे कोच होती है जिसमे यात्रियों की केवल बैठक व्यवस्था की जाती है. इस कोच में 3-3 सीट दोनों तरफ के हिसाब से कुल 6 सीटें बनी होती हैं. जिसकी सीटो पर कुशन लगी हुई काफी आरामदायक होती है. वैसे ही कुछ सीटें लकडी की होती हैं. इस कोच में कुल 108 सीटे होती है. 


2s बैठक व्यवस्था का ले आउट निचे उपलब्ध है. निचे इमेज देखिये 👇👇👇

2s-seat-in-train-map
2s-seat-in-train-map

उपरोक्त इमेज सिर्फ समझने के लिए है...! वास्तविक कोच कुछ बदलाव भी हो सकते है.  

आगे 2s In Train इस बारे में विस्तार से जानेंगे……..!


What Is 2s In Train - Meaning Of 2s In Train - 2s In Train Means विस्तृत जवाब 


उपरोक्त संक्षिप्त जवाब में आपको इसके बारे में ऊपर-ऊपर जानकरी तो मिल ही गयी होगी. लेकिन अब हम मुद्देवार इस बारे में बारीकी से जानकारी लेंगे.  


1. 2s याने सेकंड सीटिंग (Second Seating) कोच सबसे निचले वर्ग के कोच होते हैं. 

2. Second Seating में यात्रियों के लिए केवल बैठने के लिए ही सीटे होती है. 

3. जिसमे एक बर्थ पर 3 यात्री बैठ सकते हैं. के लाइन में कुछ 6 सीट होती है. 

4. Second Seating में एक कोच में 108 सीटें होती हैं.

5. 2s के कोच में केवल यात्रियों के बैठने के लिए ही सीट होती है वातानुकूलित सुविधा नहीं होती है. 

6. यह 2s के कोच 4 से 5 घंटे की दुरी के सफ़र के लिए उपयुक्त है लेकिन लम्बी दुरी के सफर के लिए आरामदायक नहीं है.

7. यह 2s Second Seating नॉन एसीसेकंड सीटिंग कोच सबसे निचले वर्ग के कोच होते हैं. 

8. नॉन एसीसेकंड सीटिंग होने के कारण इसे खुली खिडकियों वाला बनाया गया है. 

what-is-2s-in-train-2s In Train
What Is 2s In Train (2s In Train)

9. इसमें यात्रियों के सोने की या आराम करने की व्यवस्था नहीं होती है. 

10. 2s के कोच में नार्मल कुशन वाली सीट होती है तो कुछ सीट लकड़ी की भी बनी होती है.  

11. इसका किराया भारतीय रेलवे में सबसे कम है और इसीलिए एक सामान्य व्यक्ति इसमें बड़ी आसानी से सफ़र कर सकता है. 

12. इसमें सफ़र करने के लिए वर्तमान में यात्रियों को रिजर्वेशन करके अपनी सीट बुकिंग करनी होती है. इसका टिकट 2s इस केटेगरी में मिलता है. 

13. रिजर्वेशन वालो को रिज़र्व सिट मिलती है और जिनका रिजर्वेशन किसी कारण से नहीं होता उन्हें नहीं मिलती है. (नोट:- ये नियम समय समय पर परिवर्तित हो सकते है)

14. इसके आपका लगेज, सामान रखें के लिए सीट के उपर साइड में खाली जगह होती है.

15. इसकी सबसे बड़ी विशेषता है की, आधा भारत इस 2s श्रेणी याने Second Seating में ही सफ़र करता है.

16. इसमें कोच को D1, D2, D3, D4, D5, D6, D7, D8, D9, D10, D11, D12, D13, D14 आदि से पहचाना जाता है. 


भारतीय रेलवे में 2s और CC व्यवस्था वाली ट्रेन Karnavati Express है. वैसे हमारा अक्सर इसमें जाना होता है जब भी हमारा गुजरात जाना होता है. हमारा इसके बारे में ये अनुभव आया की 2s में काफी छोटी सीटें होती हैं न ही ज्यादा आरामदेह होती है. यदि आप का शरीर काफी विशालकाय है तो फिर आप इसमें अकड़े बिना नहीं रह सकते है. 


बहरहाल इन 2s ट्रेनों में किराया बाकि शयनयान ट्रेनों से काफी हद तक कम होता हैं. वैसे ही इसमें कंफर्म टिकट मिलने की संभावना भी ज्यादा होती हैं. बाकी ट्रेनों में टिकट के कन्फर्म के बारे में तो आप जानते ही हो...!

भारतीय रेलवे की दूसरी बैठक व्यवस्था के बारे में आर्टिकल  

👇👇👇जरुर पढ़ें-👇👇👇

CC In Train क्या होता हैं - What Is CC In Train - CC In Train Means जानिए  

SL In Train क्या होता हैं - What Is SL In Train - SL In Train Means जानिए 


आपके लिए अन्य आर्टिकल  

👇👇👇यह भी पढ़ें-👇👇👇

भाषा किसे कहते हैं - परिभाषा और भेद - Bhasha Aur Boli Mein Antar

भाषा की सबसे छोटी इकाई क्या है- “वर्ण” या “अक्षर”  या “ध्वनि” - बिलकुल सटीक जवाब

भाषा के प्रमुख प्रकार-रूप-भेद - Bhasha Ke Kitne Roop Hote Hain - Bhasha Ke Kitne Bhed Hote Hain 


Second Sitting और General में क्या अंतर है (Difference Between Second Sitting And General Coach)


आप लोगो में से बहुत मेरे मित्र Second Sitting (2S) और General Coach (GN) के बीच फर्क करते समय काफी भ्रमित दिखाई देते हैं. सेकेंड सिटिंग और सामान्य कोच इन दोनों में ही काफी अंतर है जो आप निचे जानेंगे. 


1. दोनी कोच में बुनियादी और सबसे महत्वपूर्ण अंतर यह है कि, सेकेंड सिटिंग एक आरक्षित वर्ग है, वही पर सामान्य कोच एक अनारक्षित वर्ग है.


2. दोनों कोचो में सीटों को बैठने के लिए ही डिज़ाइन किया गया है, सोने के लिए नहीं. लेकिन फिर भी सेकेंड सिटिंग याने 2S कोच का लेआउट सामान्य कोच से काफी भिन्न होता है.


3. सेकेंड सिटिंग में दूसरे कोच को डी 1, डी 2, डी 3 आदि के साथ दर्शाया जाता है, वही General Coach में GN, GS या UR से दर्शाया जाता है.


4. भारतीय रेल में विशेष प्रकार के चिन्हों का प्रयोग चीजों को दर्शाने के लिए किया जाता है. नीले ICF Coach पर पीले या सफेद रंग की पट्टियां खिड़की के शीर्ष पर कोच के अंत में रखी जाती हैं, जिसका प्रयोग सेकेंड सिटिंग कोच को दूसरे कोचों जैसे General Coach आदि से अलग दर्शाने के लिए किया जाता है. 


5. सेकंड सिटिंग कोच ज्यादातर दिन के समय चलती हैं. इसीलिए ये गैर-इंटरसिटी ट्रेनो के श्रेणी में आती हैं. इसके विपरीत General Coach वाली ट्रेने लम्बी दुरी के लिए दिन रात के सफ़र में भी चलती है.


Indian Railway में 2s In Train को छोड़कर अन्य बैठक  व्यवस्था की जानकारी 


भारतीय रेलवे में 2s ये श्रेणी सबसे निचले पायदान पर आती है. जिसमे बारे में आपके कौतुहल को काफी हद तक हमारे द्वारा समाप्त कर दिया गया है. इसके उपरी स्तर पर जो बैठक व्यवस्थाये आती है जिसमे यात्रियों के भुगतान के आधार पर उन्हें वैसी सुविधाए भी दी जाती है ताकि उनका सफ़र आरामदायक बनाया जा सके. निचे ये सभी बैठक व्यवस्था को आप जान सकते है. 👇👇👇


i) 1A - फर्स्ट क्लास AC कोच लेआउट (1A प्रथम क्षेणी वातानुकूलित)

ii) First Class (FC) - फर्स्ट क्लास

iii) AC 2 टियर कोच लेआउट (2A द्वितीय क्षेणी वातानुकूलित)

vi) 3A - 3 टियर AC (3 A तरुत्तिय क्षेणी वातानुकूलित)

v) EC - एग्जीक्यूटिव चेयर कार

vi) AC चेयर कार कोच लेआउट CC - CHAIR CAR (CC). (CC चेयरकार)

vii) SL - स्लीपर क्लास कोच लेआउट

viii) 2S - सेकंड सिटींग (2S सामान्य क्षेणी आरक्षण)


👇👇निचे इनका विस्तार से जानकारी दी गयी है....!


i) 1A - फर्स्ट क्लास - [AC कोच लेआउट] - (1A प्रथम क्षेणी वातानुकूलित) :- 

1A - फर्स्ट क्लास यह भारतीय रेल की सबसे महँगी और सबसे आरामदायक कोच है. इस कोच में वातानुकूलित याने AC लगा होता है. इसीलिए से 1A प्रथम क्षेणी वातानुकूलित या AC कोच लेआउट भी कहा जाता है. इस में किसी-किसी ट्रेन में खाने व पीने का खर्चा किराये में शामिल करके वसूला जाता है. इसी कारण 1A - फर्स्ट क्लास किराया लगभग हवाई जहाज के बराबर और कभी कभी तो उससे ज्यादा भी हो सकता है. 

2s-in-train-1A-फर्स्ट-क्लास
2s-in-train-1A-फर्स्ट-क्लास

इस कोच में आपको स्वादिस्ट खाना भी उपलब्ध कराया जाता है. जिस पाकर इसमें किराया लिया जाता है उसी प्रकार साफ़ सफाई और आदि सुविधाओ का पूरा ध्यान रखा जाता है. जिसमे आपको नहाने के लिए बाथरूम की सुविधा में इसमें उपलब्ध करवाई जाती है. 

   

1A - फर्स्ट क्लास में भी दो प्रकार के केबिन होते है :-


पहला प्रकार है  COUPE :-  इसमें 2 सीट होती है. दूसरा प्रकार है  CABIN :- इसमें 4 सीट होती है. 

what-is-2s-in-train-1a-फर्स्ट-क्लास-coupe
what-is-2s-in-train-1a-फर्स्ट-क्लास-coupe

टिकट रिजर्वेशन के वक्त आपके ऊपर निर्भर है की COUPE या CABIN कुछ भी बुक करवा सकते है. ये उसकी उपलब्धता पर निर्भर करता है. 

what-is-2s-in-train-1a-फर्स्ट-क्लास-cabin
what-is-2s-in-train-1a-फर्स्ट-क्लास-cabin


1A - फर्स्ट क्लास कोच में यात्रियों की सहायता के लिए एक सेवक भी होता है. इसमें बिस्तर जैसे ओढने और बिछाने के लिए किराए के साथ शामिल होते हैं. यह वातानुकूलित कोच केवल कुछ ही लोकप्रिय मार्गों पर उपलब्ध किया गया है. जिसमे 10 या 18 यात्रियों ही यात्रा कर सकते हैं.


ii) First Class (FC) - फर्स्ट क्लास :-

First Class (FC) - फर्स्ट क्लास ये कोच 1AC- एसी फर्स्ट कोच की तरह ही होता हैं. परन्तु इसमें AC याने वातानुकूलित नहीं होता है. बिना एसी का कोच होने के कारण इसमें बिस्तर उपलब्ध नही करवाया जाता हैं. इसके बर्थ 1AC से थोड़े छोटे आकार के होते हैं. इसमें भी यात्रियों की सहायता के लिए कर्मचारी उपलब्ध होते है.


iii) AC 2 टियर कोच (2A द्वितीय क्षेणी वातानुकूलित) :- 

AC 2 टियर कोच लेआउट स्लीपिंग बर्थ के साथ आरामदायक व वातानुकूलित कोच होता है. जिसका किराया 1AC से थोडा ही कम होता है. इसमें एंपल लेग रुम, पर्दे और इंडीविजुअल रीडिंग लैंप होते हैं. 


AC 2 में सीटें को छह खंडो के दो स्तरों में बांटा गया हैं. जिसमे दो सीटें साइड में और चार सीटें कोच की चौड़ाई में फैली हुईं होती है. इसमें यात्रियों की प्राइवेसी को ध्यान में रखकर हर सीट में पर्दा लगा हुआ होता है. AC 2 टियर कोच (ICF) में करीब 46 यात्री सफर कर सकते हैं और 52 यात्री तक LHB कोच में सफर करते हैं.

what-is-2s-in-train-in-hindi-2a-द्वितीय-क्षेणी-वातानुकूलित
what-is-2s-in-train-in-hindi-2a-द्वितीय-क्षेणी-वातानुकूलित


vi) 3A - 3 टियर AC (3 A तरुत्तिय क्षेणी वातानुकूलित) :-  

इस कोच में भी स्लीपिंग बर्थ के साथ वातानुकूलित लगा होता है. इसमें 6 व 2 सीट सामने की तरफ होती है. 3 टियर AC की सीटें भी 2AC के जैसी ही व्यवस्थित होती हैं. लेकिन इसमें चौड़ाई के सापेक्ष कुल 6 सीट होते हैं और दो साइड में ऐसे एक कोच टोटल 8 सीटें में होती हैं.

 

इसमें उपलब्ध कराई जाने वाली बिछायत किराए में शामिल होता है. इसमें रीडिंग के लिए कोई लैंप नहीं लगा होता है. 3 टियर AC में कुल 64 यात्री सफर कर सकते हैं. ब्रॉड गेज (ICF) कोच में कुल 72 यात्री सफर करते हैं.

3-a-तरुत्तिय-क्षेणी-वातानुकूलित-meaning-of-2s-in-train
3A-तरुत्तिय-क्षेणी-वातानुकूलित-meaning-of-2s-in-train

v) EC - एग्जीक्यूटिव चेयर कार :-

इंडियन रेलवे में ट्रेनों में एग्जीक्यूटिव चेयर कार (Executive chair car) विशाल सीटों और लेगरूम के साथ एक वातानुकूलित कोच होती है. लगातार चार सीटों के साथ, इसका उपयोग इंटरसिटी डे यात्रा के लिए किया जाता है और शताब्दी एक्सप्रेस, डबल डेकर एक्सप्रेस और तेजस एक्सप्रेस में इस प्रकार के कोच उपलब्ध होते है.


vi) AC चेयर कार कोच लेआउट (CC चेयरकार)

CC चेयरकार वातानुकूलित कोच याने एयरकंडीशन्ड सीटर कोच होता है. इसमें सीटों के बीच काफी ज्यादा अंतर होता है. इस कोच की एक पंक्ति में कुल चार से पांच सीटें होती हैं. इन कोचों का इस्तेमाल गरीब रथ,तेजस एक्सप्रेस, डबल डेकर और शताब्दी एक्सप्रेस ट्रेनों में किया जाता है. इस कोच में बेठने के लिए सीट लगी रहती है व वातानुकूलित लगा रहता है. इस तरह के कोच एक दिन में समाप्त होने वाली यात्रा के लिए ठीक होते हैं लम्बी दुरी के लिए नहीं. 

ac-चेयर-कार-कोच-लेआउट-cc-चेयरकार-ec--एग्जीक्यूटिव-चेयर-कार-2s-in-train-means
AC-चेयर-कार-कोच-लेआउट[CC-चेयरकार] EC--एग्जीक्यूटिव-चेयर-कार


vii) SLEEPER CLASS (SL) - स्लीपर क्लास कोच लेआउट :- 

स्लीपर क्लास - SLEEPER CLASS भारतीय रेलवे का सबसे आम कोच है. जिसमे भारत रेलवे में यात्रियों में से 70 प्रतिशत से ज्यादा लोग यात्रा करते है. साधारणत: इस प्रकार के दस से बारह कोच एक ट्रेन में जोड़े जाते हैं. इस कोच में लम्बाई में दो और चौड़ाई में तीन बर्थ होती हैं. SLEEPER CLASS में यात्रियों के लिए कुल 72 सीटें होती हैं लेकिन आपको मालूम ही है की इसमें कितने लोग सफ़र करते है. 

sleeper-class-sl--स्लीपर-क्लास-कोच-ले-आउट-2s-in-train
SLEEPER-CLASS-SL--स्लीपर-क्लास-कोच-ले-आउट

इस में यात्रियों की सीटिंग 3AC के समान ही होती है लेकिन वातानुकूलित की सुविधा इसमें नहीं होती है. इसका किराया आम जनता की पहुच में है. इसे ही SL - स्लीपर क्लास नॉन एसी कोच भी कहा जाता है.

आपके लिए अन्य आर्टिकल  

👇👇👇यह भी पढ़ें-👇👇👇

Oppo Kaha Ki Company Hai? Oppo Company Belongs To Which Country सटीक जानकारी 

Vivo Kaha Ki Company Hai? Vivo Mobile Company सटीक जानकारी

पासवर्ड को हिंदी में क्या कहते हैं - सटीक जवाब बिना बकवास 


viii) 2S - सेकंड सिटींग (2S सामान्य क्षेणी आरक्षण) :- 

इसके बारे में जानकारी आपको ऊपर बताई जा चुकी है. लेकिन आगे विभिन्न प्लेटफार्म पर उपलब्ध जानकारी भी आपको बताएँगे.


आइये निचे देख 👀 लेते है.👇👇👇


What Is Class 2s In Train के बारे में Q & A Platform पर सवाल जवाब


आगे आपको What Is Meaning Of 2s In Train इस सवाल के जवाब में Q & A Platform पर क्या जानकारी बताई गयी है इससे आपको अवगत कराएँगे. ऐसा हम अपने अधिकतर लेख में करते है क्योकि ऐसा करने से हमारे जानकारी की अधिक पुष्टि हो पाती है. उसी प्रकार आपको विभिन्न प्लेटफार्म की जानकारी एक ही स्थान पर उपलब्ध हो जाती है. 


Quora के अनुसार 2s मतलब क्या होता है (2s Matlab Kya Hota Hai)


Quora के बहुत से यूजर ने What Is 2s In Train In Hindi इस सवाल के लिए अपने जवाब दिए है. जिसमे हम आपके सामने Nilesh Songa, मुंबई (महाराष्ट्र) इनका जवाब रख रहे है. जो हमारी नजर में आपके कौतुहल को काफी हद तक समाप्त करेगा और हमारे जवाब को भी एक सार्थकता प्रदान करेगा.👇👇👇  


2s-in-train-means
2s In Train Means


Vokal के अनुसार 2s क्या होता है ट्रेन में (2s Kya Hota Hai Train Me)


Vokal में 2s In Train Means In Hindi इसके बारे में ज्यादा जानकारी उपलब्ध नहीं हो पाई है लेकिन फिर भी काफी संक्षिप्त में जवाब मिला है जो इस प्रकार है. निचे इमेज देखिये👀👇👇

what-is-2s-in-train
What Is 2s In Train


YouTube के मुताबिक 2s In Train का मतलब हिंदी में (What Is 2s In Train)


जैसा की इस लेख में 2s In Train इस विषय से जुड़े What Is 2s In Train इस सवाल पर चर्चा की गयी. इसके बारे में YouTube पर हमें Yatri Suvidha इस चेंनल का विडियो काफी सटीक लगा तो आपको भी अच्छा लगेगा. यदि आपको विडियो अच्छा लगे तो उनके चेनल को जरुर सब्सक्राइब करे. इस विडियो को आप निचे देख सकते है. 👀👇👇


2s In Train Images - 2s Seat In Train Images - 2s In Train Means Images

आपके लिए कुछ 2s Seat In Train Images और 2s In Train Means Images निचे दिखाई जा रही है. जिससे आगे आप General Coach और Second Seating में अन्तर कर सके. 

2s-in-train-means-images
2s In Train Means Images

2s-seat-in-train-images
2s Seat In Train Images


Conclusion :- 


आज 2s In Train क्या होता हैं? What Is 2s In Train - 2s In Train Means जानिए इस लेख में आपको Meaning Of 2s In Train वो आपकी अपनी भाषा हिंदी में उपलब्ध करवायी गयी. इसके साथ ही कुछ 2s In Train Means Images को भी आपके सामने रखा गया. इस लेख को पढने के बाद आपके What Is 2s In Train In Hindi इस सवाल के बारे में सम्पूर्ण कौतुहल की समाप्ति हो गयी होगी. ऐसा हमे लगता है. इस लेख में आगे निष्कर्ष में यही कहा जा सकता है की, 2s याने सेकंड सिटींग (Second Seating) एक दिन में पूरी होने वाली आपकी यात्रा के लिए रेलवे का सबसे सस्ता कोच है.

Post a Comment

0 Comments